Health Tips: हदय रोग के जोखिम को कम करने के लिए इस खाध पदार्थो से बचना चाहिए जाने पूरी न्यूज

Health Tips: हदय रोग के जोखिम को कम करने के लिए इस खाध पदार्थो से बचना चाहिए जाने पूरी न्यूज


इस अंग को स्वस्थ रखने के लिए हम नियमित रूप से टहलते या व्यायाम करते हैं और अपने आहार पर भी नियंत्रण रखते हैं। लेकिन अगर आप खाने पर नियंत्रण रखेंगे तो क्या काम होगा? जानिए कौन से खाद्य पदार्थ दिल के लिए अच्छे नहीं हैं। आपको उन सभी खाद्य पदार्थों से खुद को नियंत्रित करना होगा।

यहां 10 खाद्य पदार्थ हैं जो दिल के लिए अच्छे नहीं हैं –

हालांकि कैलोरी और वसा में कम, झींगा में बहुत अधिक कोलेस्ट्रॉल होता है। जिससे हृदय रोग होता है। यह पाया गया है कि पके हुए सामन का एक टुकड़ा साढ़े तीन औंस वजन का होता है जहां झींगा की समाझींगान मात्रा में केवल 72 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल, 179 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है।

जिगर, मस्तिष्क, अस्थि मज्जा

जिगर, मस्तिष्क, अस्थि मज्जा – इन भागों में कोलेस्ट्रॉल का उच्च स्तर होता है। इसलिए जिन लोगों को दिल की बीमारी होने का खतरा है उन्हें लीवर, ब्रेन या नेहरी जैसे खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए।

केक, पेस्ट्री, पुडिंग, आइसक्रीम

इनमें से प्रत्येक खाद्य पदार्थ मीठा होता है। और चीनी से हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के जर्नल की एक रिपोर्ट के अनुसार, शर्करा युक्त पेय रक्तचाप बढ़ाते हैं। और लीवर की गतिविधि को बढ़ाता है, जो रक्त में हानिकारक वसा को छोड़ता है। और ये दो कारक हृदय रोग के पीछे उत्प्रेरक हैं।

लाल मांस

बीफ, खासी, भैंस, खासी और बत्तख के मांस को रेड मीट कहा जाता है। यह रेड मीट फैट या कोलेस्ट्रॉल हृदय रोग का कारण बनता है। हाल के अध्ययनों से पता चला है कि रेडमीट कार्निटाइन नामक एक यौगिक बनाने के लिए टूट जाता है, जो ट्राइमेथिलैमाइन एन ऑक्साइड छोड़ता है। और ट्राइमेथिलैमाइन की धमनियों में एथेरोस्क्लेरोसिस या रुकावट के निर्माण में सक्रिय भूमिका होती है।

अतिरिक्त तला हुआ और तेलयुक्त भोजन

इसमें कोई शक नहीं है कि डीप फ्राइड खाना स्वादिष्ट होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि जितना अधिक भोजन तला हुआ होता है, भोजन की गुणवत्ता उतनी ही कम होती है, उतनी ही अधिक हानिकारक वसा डाली जाती है। मांस या कुछ और तलते समय आप देखेंगे कि तेल में बहुत सारे बुलबुले उठ रहे हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि तेल के निकलने के परिणामस्वरूप भोजन के अंदर का पानी निकल जाता है और तेल की गर्मी और दबाव के कारण यह सूखना शुरू हो गया है। डीप फ्राई करने से जब पानी पूरी तरह से सूख जाए तो बुलबुले आना बंद हो जाते हैं। पानी की जगह तेल भोजन में प्रवेश करता है। मांस या इसी तरह के खाद्य पदार्थों में संतृप्त वसा होता है, जिसे तेल के अतिरिक्त बढ़ाया जाता है।

नारियल

हॉन्ग कॉन्ग और सिंगापुर के दो आंकड़े बताते हैं कि हॉन्ग कॉन्ग में दिल का दौरा पड़ने से कम से कम तीन गुना ज्यादा लोगों की मौत सिंगापुर की तुलना में हुई है। शोधकर्ताओं के अनुसार इसका एक कारण यह भी है कि सिंगापुर के लोग अपने आहार में नारियल और ताड़ के तेल का इस्तेमाल करते हैं। लगभग 75% से 90% नारियल तेल में सैचुरेटेड फैट होता है, जो हृदय रोगियों के लिए हानिकारक होता है।

घी-मक्खन-दालदा

हालांकि घी-मक्खन ओरिएंटल व्यंजनों में एक अनिवार्य घटक है, लेकिन इसमें उच्च स्तर का संतृप्त वसा होता है। इसके अलावा, पामिटिक एसिड होता है, जो धमनी अवरोध पैदा कर सकता है, कोलंबिया विश्वविद्यालय में पोषण विशेषज्ञ वाहिदा कारमाली कहते हैं। इसकी जगह जैतून का तेल, सूरजमुखी का तेल या मार्जरीन का इस्तेमाल किया जा सकता है।

अंडे की जर्दी

वैसे तो अंडे का सफेद भाग खाया जा सकता है, लेकिन हृदय रोगियों के लिए बेहतर है कि अंडे की जर्दी से परहेज करें। क्‍योंकि अंडे की जर्दी में कोलेस्‍ट्रॉल की उच्‍च मात्रा होती है। यह पाया गया है कि एक बड़े मुर्गे के अंडे में 16 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल होता है, जो सभी जर्दी में होता है। और एक हृदय रोगी को एक दिन में 200 मिलीग्राम से अधिक कोलेस्ट्रॉल नहीं लेना चाहिए।

फास्ट फूड

बर्गर, पिज्जा, फ्रेंच फ्राइज, फ्राइड चिकन सभी फास्ट फूड की कतार में हैं। जर्नल ऑफ द अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन की एक रिपोर्ट के अनुसार, जो लोग नियमित रूप से सप्ताह में एक बार फास्ट फूड खाते हैं, उनमें दूसरों की तुलना में दिल का दौरा पड़ने से मरने की संभावना 20 प्रतिशत अधिक होती है। जो लोग एक से ज्यादा यानी दो-तीन बार खाते हैं, उनमें हार्ट अटैक का खतरा 50 फीसदी ज्यादा होता है। और जो लोग सप्ताह में चार या अधिक बार फास्ट फूड खाते हैं, उनके लिए जोखिम 70 प्रतिशत से अधिक है।

मछली के अंडे

रक्त लिपिड प्रोफाइल को बढ़ाने वाली सामग्री एलडीएल या मछली के सिर और अंडों से हानिकारक कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स के स्रोत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: